Loading...

Health

लौकी खाने के हैं कई फायदे क्या जानते हैं आप

गर्मी के मौसम में आपके बॉडी को सबसे ज्यादा आवश्यकता होती है पानी की। लेकिन जैसे-जैसे गर्मी बढ़ती जाती है बॉडी में पानी की मात्रा भी कम होने लगती है, जिसके चलते आप लू की चपेट में आने लगते हैं। लेकिन आपके आस-पास ऐसी कई चीजें उपलब्ध हैं जो आपके बॉडी में पानी की मात्रा को कम नहीं होने देतीं ...

Read More »

हड्डियों को मजबूत बनाती है हरी बीन्स भरपूर मात्रा में पौष्टिक तत्व मौजूद

हरी बींस का प्रयोग ज्यादातर लोग सब्जी बनाने के लिए करते हैं। हरीबीन्स में भरपूर मात्रा में पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं, जो हमारी स्वास्थ्य को बहुत सारे फायदे पहुंचाने का कार्य करते हैं। हरी बींस में विटामिन सी, के व बी मौजूद होते हैं। इसके अतिरिक्त इसमें फोलिक एसिड की भी भरपूर मात्रा पाई जाती है। हरी बीन्स में कैल्शियम, सिलिकॉन, आयरन, मैग्नीज, बीटा कैरोटीन, प्रोटीन, पोटेशियम व कॉपर की भी भरपूर मात्रा पाई जाती ...

Read More »

चेहरे पर नेचुरल निखार लाता है ये फेस पैक

सभी लड़कियां अपने चेहरे को गोरा निखरा व खूबसूरत बनाना चाहती हैं। कई लड़कियों का रंग तो नेचुरल रूप से गोरा होता है, पर कुछ लड़कियां ऐसी भी होती हैं जिनका रंग प्रदूषण व धूल के एक धूल मिट्टी के कारण काला हो जाता है। ऐसे में वह लड़कियां अपने रंग को गोरा बनाने के लिए बहुत सारे उपायों का प्रयोग करती हैं, पर कोई भी उपाय उनके रंग को गोरा नहीं ...

Read More »

साइनोसाइटिस से छुटकारा दिलाती अदरक व हल्दी की चाय

कई लोगों को मौसम बदलने या प्रातः काल उठने पर लगातार छींके आने लगती हैं। लगातार छींक आने की समस्या को साइनोसाइटिस बोला जाता है। आम भाषा में लोग इसे साइनस भी कहते हैं।जब हम सांस लेते हैं तो हमारी सांसों के साथ धूल मिट्टी के महीन कण हमारे अंदर चले जाते हैं, व यह हवा को साफ करके फेफड़ों तक पहुंचाते हैं। जब यह कार्य करना बंद कर देते हैं, ...

Read More »

प्रतिदिन वियाग्रा की छोटी डोज से नहीं होगा ये कैंसर

नई दिल्ली/वाशिंगटन: एक शोध में पता चला है कि यौन समस्याओं में कार्य आने वाली दवा लेने से कोलोरेक्टल कैंसर (पाचन तंत्र के निचले भाग पर स्थित कोलन या रेक्टम का कैंसर) का जोखिम कम हो सकता है। अमेरिका में ऑगस्ट यूनिवर्सिटी में शोधकर्ता डारेन डी ब्राउनिंग ने बताया कि आंत की परत पर कोशिकाओं के गुच्छे (पॉलिप्स) बन जाते हैं। वियाग्रा उनके निर्माण को ...

Read More »

मोटापे से हैं परेशान तो आपके लिए अच्छी खबर

अगर आप अपने मोटापे से परेशान है तो आपके लिए अच्छी समाचार है। एक नए अध्ययन के अनुसार, भूख को नियंत्रित करने में उपयोगी, प्राकृतिक रूप से पैदा होने वाले हार्मोन की तरह कार्यकरने वाले तत्व से मोटापे से ग्रस्त लोग वजन कम कर सकते हैं। सीमेग्लूटाइड नाम के इस तत्व की रासायनिक संरचना पेप्टाइड1 जैसे हार्मोन ग्लूकागोन से बहुत ज्यादा हद तक मिलती जुलती है।यह अध्ययन ...

Read More »

हेल्थी बनाएं पालक की सामी

घर में खाना बनाने वाली स्त्रियों के लिए सबसे बड़ी कठिनाई तब आती है, जब घर में खाने वाले लोग हरी सब्जियों से जी चुराते हैं। घर में बच्चों के साथ यह समस्या बहुत आती है, क्योंकि बच्चें अक्सर हरी सब्जियां नहीं खाना पसंद करते हैं। अगर आपके बच्चे भी हरी सब्जियां खाने में आना-कानी करते हैं तो आप बच्चों को हरी सब्जियों से बने लजीज ...

Read More »

डायबिटीज हैं परेशान, तो ये नयी दवा

मधुमेह की एक नयी दवा मोटापा कम करने में सहायक सिद्ध हुई है। शोध के मुताबिक, यह दवा उस यौगिक की तरह कार्य करती है, जो भूख को नियंत्रित करने वाले हार्मोन के अनुसार सक्रिय होता है। शोधकर्ताओं ने बताया कि सेमाग्लूटाइड की रासायनिक संरचना बॉडी में इंसुलिन का स्राव करने वाले तथा भूख को नियंत्रित करने वाले ‘ग्लूकागन लाइक पेप्टाइड-1’ (जीएलपी-1) हार्मोन से बहुत ज्यादा मिलती है। कार्लेस्टन में साउथ कैरोलिना मेडिकल यूनिवर्सिटी ...

Read More »

खाएं अंकुरित चने, जानिए इसके फायदे

अगर आपका इम्यून सिस्टम निर्बल हो गया है व आप बहुत जल्दी बीमार हो जाते हैं, तो अंकुरित या भीगा चना खाना आपके लिए बहुत ही लाभकारी होगा। इससे आपके बॉडी की इम्यूनिटी बढ़ेगी व सर्दी-जुकाम, वायरल फीवर आदि बीमारियों से बचाव होगा। भीगे चने में प्रोटीन, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, आयरन, मिनरल और विटामिन्स काफी होते हैं, जो हमारे बॉडी को बीमारियों से लड़ने में मदद करता है व कई बड़ी बीमारियों से बचाता है। यह ज्यादा महंगा भी नहीं होता है व बाजार में किसी ...

Read More »

हाईवे पर चलने से पहले हो जाएं सावधान

 नेशनल हाईवे पर चल रहे हैं, तो जरा अलर्ट हो जाइए। एनएचएआई की एक जांच में जो खुलासा हुआ है, वो दंग करने वाला है। एनएचएआई की एक जांच के मुताबिक, हाईवे पर वाहन चलाने वाले ड्राइवरों में करीब 25 प्रतिशत की आंखें निर्बल हैं। एनएचएआई ने बताया कि राष्ट्र के 25 फीसदी ड्राइवर ऐसे हैं, जिन्हें दूर का कम दिखाई देता है। ड्राइवरों को इस बात की जानकारी इसलिए नहीं है, क्योंकि उन्होंने कभी ...

Read More »