Home >> National >> नोटबंदी सालगिरह! कहीं ‘काला दिवस’ तो कहीं ‘काला धन विरोधी दिवस’

नोटबंदी सालगिरह! कहीं ‘काला दिवस’ तो कहीं ‘काला धन विरोधी दिवस’

Image result for नोटबंदी की सालगिरह!नई दिल्लीनोटबंदी को आज एक वर्ष पूरा हो गया है पिछले वर्ष आठ नवंबर को पीएम नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी का एलान किया था  पांच सौ  एक हजार के पुराने नोट बंद कर दिए थे आज यानी आठ नवंबर को विपक्ष ने ‘काला दिवस’ मनाने का एलान किया है तो वहीं भाजपा पूरे राष्ट्र में ‘काला धन विरोधी दिवस’ मना रही है

आठ नवंबर के दिन क्या हुआ था?

आठ नवंबर की प्रातः काल आम लोगों के लिए किसी आम प्रातः काल की तरह ही थी, लेकिन रात जैसे ही घड़ी की सुई आठ बजे पर पहुंची राष्ट्र के पीएम ने एक ऐसा एलान कर दिया, जिससे आम लोगों से लेकर खास लोगों तक सभी की नींद उड़ गई पीएम मोदी ने इस दिन मध्यरात्रि से पांच सौ एक हजार के पुराने नोट बंद करने का एलान कर दिया

अगले दिन यानी नौ नवंबर को बैंकों के सामने लंबी-लंबी कतारें लग गई हर कोई दंग परेशान थाठंड के इस मौसम में प्रातः काल चार बजे से ही बैंकों के सामने लोगों की लंबी-लंबी कतारें लग गई हर कोई अपने पांच सौ  हजार के पुराने नोट जल्द से जल्द बदलवाना चाहता था

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी का एलान करने के बाद एक सवाल सभी के जहन में उठने लगा कि आखिर क्यों आकस्मित से राष्ट्र के पीएम ने इतना बड़ा निर्णय ले लिया इस निर्णय के पीछे कई बड़ी वजह भी बताई गई जैसे-

  • देश में ब्लैक मनी बेकार हो जाएगा
  • रियल एस्टेट एरिया में काले धन का प्रयोग रुक जाएगा
  • हवाला के जरिए पैसों के लेन देन पर रोक लगेगी
  • देशभर में फैल चुके जाली नोट समाप्त हो जाएंगे
  • भ्रष्टाचार  रिश्वतखोरी में कमी आएगी
  • ड्रग्स-हथियार के कारोबार पर रोक लगेगी
  • और आतंकवाद की फंडिंग पर प्रभाव पड़ेगा

कितना कैशलेस हुआ भारत

यह भी पढ़ें:   वरिष्ठ साहित्यकार मनु शर्मा का निधन

सरकार ने नोटबंदी के पीछे की सबसे बड़ी वजह इंडियन अर्थव्यवस्था को लेस-कैश करना बतायी काले-धन पर रोकथाम लगाने वाला कदम बताया नोटबंदी के बाद गवर्नमेंट का मकसद लोगों को डिजिटल पेमेंट के लिए ज्यादा से ज्यादा प्रेरित करना था नतीजतन, राष्ट्र में ई-वॉलेट  कार्ड पेमेंट के प्रयोग में भारी इजाफा हुआ आज हिंदुस्तान में कुल ट्रांजेक्सशन का 5% ट्रांजेक्शन कैशलेस होता है

नोटबंदी के बाद 1000 के नोटों में से 99% नोट वापस आए

loading...
Loading...

रिजर्व बैंक ने एक रिपोर्ट में बोला था, ‘’30 जून तक कुल मिलाकर 15 लाख 28 हज़ार करोड़ रुपये के पांच सौ  हज़ार रुपये के पुराने नोट वापस आए हैं, जबकि कुल नोटों की मूल्य 15 लाख 44 हज़ार करोड़ थी ’’  यानी सिर्फ 16 हज़ार करोड़ रुपये के पुराने नोट वापस नहीं आए हालांकि इसमें सहकारी बैंकों में  नेपाल में जमा कराए गए नोट शामिल नहीं थे भारतीय रिजर्व बैंक की इस रिपोर्ट पर केंद्र गवर्नमेंट को बहुत ज्यादा किरकिरी का सामना करना पड़ा था

पूरे राष्ट्र के नौ राज्यों की राजधानियों में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी बीजेपी

यह भी पढ़ें:   प्रद्युम्न मर्डर केस : आरोपी के 'बालिग-नाबालिग' पर निर्णय

आठ नवंबर को पूरे राष्ट्र के नौ राज्यों की राजधानियों में भाजपा प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी इसमें नोटबंदी के फायदे  ब्लैक मनी को लेकर चर्चा होगी आठ नवंबर को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगी तो चेन्नई में रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण, प्रेस कॉन्फ्रेस करेंगी

इसके अतिरिक्त मुंबई में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, अहमदाबाद में रेलमंत्री पीयूष गोयल, चंढ़ीगढ़ में मुख्तार अब्बास नकवी, बेंगलुरू में मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, कोलकाता में जयंत सिन्हा, हैदराबाद में अनंत कुमार  जयपुर में केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे

आठ नवंबर को सूरत में होंगे राहुल गांधी

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आठ नवंबर यानी आज गुजरात के सूरत में रहने का एलान किया हैगुजरात कांग्रेस पार्टी सूरत में एक प्रोग्राम आयोजित करेगी बता दें कि सूरत में व्यापारियों ने नोटबंदी  GST का बहुत ज्यादा विरोध किया था

Loading...

About Ramesh Yadav