Thursday , 21 June 2018
Loading...
Breaking News

हरियाणा में करबी 120 दलितों ने सोमवार को अपना लिया बौद्ध धर्म

हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर गवर्नमेंट के प्रति अपना गुस्सा दिखाते हुए हरियाणा में करबी 120 दलितों ने सोमवार को बौद्ध धर्म अपना लिया इन लोगों का आरोप है कि हरियाणा गवर्नमेंट ने उनकी मांगे नहीं मानी इसके लिए उन्होंने गवर्नमेंट को दो बार समय भी दिया था, लेकिन इसके बाद भी हमारी मांगे पूरी नहीं की गईं इसके बाद इन लोगों ने ये कदम उठाया इन परिवारों ने दिल्ली के लद्दाख बौद्ध भवन में जाकर बौद्ध धर्म को अपनायाImage result for हरियाणा  बौद्ध धर्म

इस मौके पर दलित नेता दिनेश खापड़ ने बताया कि हम सभी लोग 113 दिनों से जींद में धरना दे रहे थे, लेकिन हरियाणा गवर्नमेंट ने हमारी बात नहीं सुनी उन्होंने बताया कि कई हम लोग 7 मार्च को CM मनोहर लाल खट्टर से भी मिले थे   हमने उन्हें 20 मई तक हमारी मांग  लेने के लिए समय दिया था लेकिन इसके बाद भी हमारी मांगों को पूरा नहीं किया गया इसके बाद हमने अपना धर्म बदलने का निर्णय किया है

उन्होंने कहा, गवर्नमेंट की ओर से सिर्फ आश्वासन ही दिया गया हमारी मांगें नहीं मानी गईं हमारी मांग हैं कि गैंगरेप केस की CBI जांच की जाए, भगवान हत्याकांड के परिजनों को जॉब दी जाए, जम्मू में शहीद हुए दलित परिवार को जॉब दी जाए  इसके अतिरिक्त एससी/एसटी एक्ट में अध्यादेश लाया जाए

दिनेश खापड़ ने बोला कि जब गवर्नमेंट ने उनकी मांगों को नहीं माना गया, तो उन्होंने बौद्ध धर्म अपना लिया उनका आरोप है कि हिंदू समाज के ठेकेदार दलितों का शोषण करने में लगे हैं, ऐसे में धर्म बदलना मजबूरी बन गया था वहीं हरियाणा के मंत्री अनिल बिज ने कहा, मांगे मनवाने के लिए धर्म बदलाव करना सही नहीं है

Loading...