Saturday , 26 May 2018
Loading...

28 से 30 अप्रैल तक लगातार 3 दिन बंद रहेंगे सभी बैंक, जाने

नई दिल्ली: कैश की किल्लत के बीच बैंकों की लंबी छुट्टी आने वाली है महीने के आखिर में बैंक लगातार तीन दिन बंद रहेंगे इसका सीधा प्रभाव एटीएम सेवाओं से लेकर बैंकिंग सर्विसेज पर पड़ सकता है बैंक 28 से 30 अप्रैल तक लगातार 3 दिन बंद रहेंगे ऐसे में एक बार फिर से लोगों को नकदी की समस्या का सामना करना पड़ सकता है पिछले दिनों करीब 8 राज्य दिल्ली-एनसीआर, उत्तर प्रदेश, गुजरात, बिहार, तेलंगाना, झारखंड, महाराष्ट्र  मध्य प्रदेश में नकदी का संकट रहाएटीएम में कैश नहीं होने की शिकायतें मिली थीं

Image result for अप्रैल के आखिरी 3 दिन बंद रहेंगे सभी बैंक, हो सकती है कैश की बड़ी किल्लतकैश की किल्लत
बैंकों के तीन दिन बंद रहने से कैश की यह किल्‍लत  बढ़ सकती है पिछले कई दिनों से देशभर के कई हिस्‍सों में एटीएम से लेकर बैंक ब्रांचों तक में कैश की किल्‍लत के कारण लोगों को भारी समस्‍या का सामना करना पड़ है हालांकि, गवर्नमेंट ने इस समस्‍या को कम करने के लिए कई तरीका कर रही है लेकिन, परेशानियां अभी भी बनी हुई हैं वैसे तो लंबी छुट्टियां होने पर बैंक की ओर से अलावा कैश के बंदोवस्त किए जाते हैं, लेकिन इस बार स्थितियां कुछ अलग हैं

3 दिन बंद रहेंगे बैंक
अप्रैल के आखिरी तीन दिन बैंक बंद होंगे 28 अप्रैल को महीने का चौथा शनिवार होने से बैंकों में छुट्टी रहेगी 29 अप्रैल को साप्ताहिक अवकाश के चलते बैंक बंद रहेंगे इसी तरह 30 अप्रैल को गवर्नमेंटकी ओर से बुद्ध पूर्णिमा पर अवकाश घोषित है, इससे सभी बैंक बंद रहेंगे बुद्ध पूर्णिमा का यह अवकाश कोषागारों के लिए भी होता है इस तरह शुक्रवार यानी 27 अप्रैल तक ही एटीएम में कैश डाला जा सकेगा वैसे भी इन दिनों एटीएम में क्षमता से बहुत ज्यादा कम कैश ही चल रहा है हर महीने के दूसरे  चौथे शनिवार को बैंक बंद रहते हैं सितंबर 2015 से ये व्यवस्था लागू है बैंक कर्मचारियों की मांगें मानते हुए गवर्नमेंट ने इसे लागू किया था

फिर खाली हो सकते हैं एटीएम
तीन दिन छुट्टी होने की वजह से शुक्रवार के बाद एटीएम में कैश नहीं डाला जाएगा ऐसे में लोगों को एक बार फिर पेरशानियों का सामना करना पड़ सकता है राष्ट्र के कई हिस्सों में एटीएम खाली होने पर गवर्नमेंट को कई बार सफाई देनी पड़ी थी भारतीय रिजर्व बैंक  एसबीआई ने भी कैश की किल्लत नहीं होने की बात कही थी साथ ही जिन इलाकों से शिकायतें मिल रही थीं वहां अलावा कैश भी भेजा गया था

Loading...