Saturday , 26 May 2018
Loading...

अब मोबाइल एप से स्टॉक ट्रेडिंग के लिए जरूरी है फिंगर प्रिंट

साइबर सुरक्षा को बढ़ान के उदेश्य से मार्केट नियामक इंडियन प्रतिभूति  विनिमय बोर्ड (सेबी) नए दिशानिर्देश जारी कर दिये हैं. इसके तहत मोबाइल एप से ट्रेडिंग करने के लिए फिंगर प्रिंट या आई स्कैन की आवश्यकता होगी.

Image result for SEBIइस विषय में मार्केट नियामक सेबी ने ब्रोकर्स, ट्रेडर्स  स्टॉक एक्सचेंज से राय मांगी है. नियामकीय सूत्रों के अनुसार अंतिम नियमन सभी शेयरधारकों की राय को ध्यान में रखते हुए बनाए जाएंगे. सेबी के प्रस्ताव के अनुसार Smart Phone  टैबलेट्स पर इंस्टॉल्ड एप की स्थिति में ट्रेडर्स  रिटेल निवेशकों को शेयर्स की खरीद  बिक्री के लिए बायोमेट्रिक ऑथेंटिकेशन की आवश्यकता हो सकती है.

साथ ही, इसका भी प्रस्ताव रखा गया है कि कुछ गतल लॉग इन के बाद निवेशक का एकाउंट लॉक किया जा सकता है जो कि नये तरीके से ऑथेंटिकेशन करने पर खुलेगा. नये सिरे से ऑथेंटिकेशन के लिए ई-मेल या वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) निवेशकों को भेजा जाएगा.

 बाजार के विशेषज्ञों के मुताबिर, छोटे ब्रोकर्स, जो कम मार्जिन पर कार्य करते हैं, को प्रस्तावित दिशानिर्देशों का पालन करने में कुछ दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है.

सेबी की ओर से यह प्रस्ताव ऐसे समय पर आया है जब दुनियाभर से जिनमें हिंदुस्तान भी शामिल है, सिस्टम्स पर साइबर अटैक की घटनाएं सामने आ रही हैं. साथ ही, सेबी आईटी टीम में एक्सपर्ट्स को भी शामिल कर रहा है ताकि इस तरह के अटैक से मजबूत फायरवॉल  तेज सुधारात्मक तरीकासुनिश्चित किये जा सकें.

Loading...