Saturday , 26 May 2018
Loading...

नकदी की कमी को पूरा करने लिए राष्ट्र की चारों प्रिंटिंग प्रेस काम पर

 सरकार ने नोटों की छपाई की प्रक्रिया को बढ़ा दिया है  सभी चार प्रेस 24×7 संचालित की जा रही हैं. देशभर से एटीएम में नकदी की कमी को देखते हुए एक ऑफिसर ने यह जानकारी दी है.

इस सप्ताह से सभी चार प्रिंटिंग प्रेस 500  200 रुपये के नोटों की लगातार बिना रुके छपाई कर रही हैं ताकि राष्ट्र में 70,000 करोड़ रुपसे की मुद्रा की अनुमानित कमी को दूर किया जा सके.

Related imageऔसतन रूप से एक दिन में सिक्योरिटी प्रिंटिंग एंड मिंटिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (एसपीएमआईएल) की चार प्रेस 18-19 घंटे कार्य करती है. यह केवल 3-4 घंटों का ही ब्रेक लेती हैं. लेकिन जब से असामान्य रूप से नकदी की मांग के चलते एटीएम में कैश की कमी देखने को मिली हैं यह 24×7 कार्य कर रही हैं.

आमतौर पर कंरसी प्रिंटिंग साइकल 15 दिनों का होता है यानि कि इस सप्ताह की जो बढ़ी हुई गति से प्रिंट की गई करंसी है वो इस महीने के आखिर तक उपलब्ध हो जाएगी.ऑफिसर ने बताया है कि इससे पहले करंसी की 24×7 प्रिंटिंग नोटबंदी के दौरान की गई थी जब नकदी की समस्या के चलते 2000 रुपये के नोटों की प्रिंटिंग को बढ़ा दिया था.

 भारतीय रिजर्व बैंक ने मंगलवार को स्पष्ट किया था कि उसके वॉल्ट्स  करंसी चेस्ट में पर्याप्त मात्रा में कैश उपलब्ध है. फिर भी सभी चार प्रिंटिंग प्रेस में नोटों की छपाई के कार्यकी गति को बढ़ा दिया गया है.