Monday , 21 May 2018
Loading...

ट्रंप का चाइना के राष्ट्रपति को बताया अपना दोस्त

वाशिंगटन : अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को बोला कि चाइनाके साथ उनके राष्ट्र की व्यापार-वार्ता ‘बहुत अच्छी’ चल रही है  इसमें बहुत ज्यादा प्रगति है ट्रंप ने व्हाइट हाउस में अमेरिकी श्रमिकों को संबोधित करते हुए कहा, ‘मुझे यह घोषणा करते हुए गर्व हो रहा है कि हमारी चाइना के साथ अच्छी वार्ता चल रही है यह पूरी वार्ता बहुत व्यापक है ’ अमेरिका  चाइनाके बीच चल रहे व्यापार युद्ध के बीच ट्रंप की यह टिप्पणी जरूरी मानी जा रही है दोनों राष्ट्र एक-दूसरे के चुनिंदा उत्पादों पर अलावा आयात शुल्क लगा रहे हैं

Image result for ट्रंप का चाइना के प्रति नरम रुखकई सालों से हमारे राष्ट्र का लाभ उठाया
ट्रंप ने व्हाइट हाउस के रोज गार्डन में श्रमिकों से कहा, ‘कई सालों से हमारे राष्ट्रका लाभ उठाया गया है मैं चाइना को जिम्मेदार नहीं ठहराता, सही बताऊं तो मैं हमारे प्रतिनिधियों को जिम्मेदार ठहराता हूं चाइना बहुत लंबे समय से, बहुत जोरदार तरीके से हमारे साथ वार्ता कर रहा है हमने खुलेपन  उन शुल्कों से निजात पाने की इस वार्ता में बहुत ज्यादा प्रगति की है मुझे लगता है कि हमें व्यापार में कुछ बड़ा जबरदस्त खुलापन देखने को मिलेगा ’

यह भी पढ़ें:   अपने हाथों को नेल एक्सटेंशन से बनाए खूबसूरत

शी चिनफिंग को ट्रंप ने बताया दोस्त
उन्होंने चाइना के राष्ट्रपति शी चिनफिंग को अपना दोस्त बताते हुए कहा, ‘मैं उन्हें बहुत पसंद करता हूं मुझे लगता है कि वह भी मुझे पसंद करते हैं, माने या न माने लेकिन वह चाइना के लिए हैं  मैं अमेरिका के लिए ’ गवर्नरों सीनेटरों के एक समूह के साथ मीटिंग में ट्रंप ने आरोप लगाया कि चाइना ने अमेरिका के कृषि एरिया के साथ ‘गलत व्यवहार’ किया है

Loading...

ट्रंप के आर्थिक सलाहकार लैरी कुडलो ने बोला कि अमेरिका को पिछले कुछ दिनों से चाइना की ओर से अच्छे इशारा मिल रहे हैं उन्होंने बोला कि राष्ट्रपति ने भी जवाब में इसी तरह के इशारा भेजे हैं अच्छी वार्ता चल रही है इस बीच, ट्रंप ने अपने शीर्ष आर्थिक सलाहकारों से बोला कि वे बहु-देशीय प्रशांत पारीय गठबंधन (टीपीपी) में शामिल होने की संभावनाओं का फिर से अध्ययन करेंट्रंप ने राष्ट्रपति बनने के बाद इस व्यापार समझौते से अमेरिका को अलग कर लिया था

व्हाइट हाउस के उप प्रेस सचिव लिंडसे वाल्टर्स ने कहा, ‘पिछले वर्ष राष्ट्रपति ने ओबामा प्रशासन में किए गए टीपीपी समझौते को समाप्त करने का वादा निभाया क्योंकि यह अमेरिकी कामगारों  किसानों के लिए अनुचित थाराष्ट्रपति लगातार यह कहते रहे हैं कि वह इससे बेहतर समझौते के लिए तैयार रहेंगे ’