Monday , 21 May 2018
Loading...

जाने कर्नाटक विधानसभा की कैसी है शक्ल

नई दिल्ली : यूँ तो चुनाव से पहले हर पार्टी आपराधिक छवि के लोगों को टिकट नहीं देने की बात करती है , लेकिन जब नामांकन भरने का समय आता है तो उस बात को भूलकर दागी लोगों को टिकट दे दिया जाता है यही हाल कर्नाटक राज्य का है चूँकि कर्नाटक की 224 सीटों के लिए विधानसभा चुनाव आगामी 12 मई को मतदान होगा नतीजे 15 मई को आएँगे फिल्हालकर्नाटक विधानसभा चुनाव की शक्ल कैसी है इस पर नज़र डालते हैं

आपको बता दें कि राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी के पास फिल्हाल 122 विधायक हैं, जबकि मुख्य विपक्षी पार्टी बीजेपी 40 विधायकों के साथ दूसरे जेडीएस 35 सीटें लेकर तीसरे नंबर पर है चुनाव सुधार करने वाली संस्था एसोसिएशनफॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की रिपोर्ट पर भरोसा करें, तो 224 में से 207 विधायकों के हलफनामों के विश्लेषण से पता चला है कि अपराधीकरण को लेकर सभी पार्टियां बड़ी-बड़ी बातें जरूर करती हैं, लेकिन वे इसके प्रति गंभीर नहीं है  यह बात रिकार्ड खुद बता रहा है

Image result for कर्नाटक विधानसभा68 विधायक के विरूद्ध आपराधिक मामले दर्ज हैं जबकि 35 विधायकों ने अपने शपथ लेटर में बताया है कि उनके विरूद्ध गंभीर प्रवृत्ति के क्राइम के मामले दर्ज हैं गंभीर प्रवृत्ति के क्राइम वे होते हैं, जिनमें 5 वर्ष या उससे ज्यादा की सजा का प्रावधान है इनमें गैर-जमानती अपराध, चुनाव संबंधी अपराध, हत्या, अपहरण, दुष्कर्म  करप्शन शामिल हैं उल्लेखनीय है कि यदि पार्टी अनुसार बताएं तो 114 में से 36 कांग्रेस पार्टी विधायक पर आपराधिक मामले दर्ज हैं, जबकि बीजेपी के 40 में से 13 विधायकों पर ऐसे मामले दर्ज हैं जनता दल के 11 यानी पर आपराधिक मामले चल रहे हैं गंभीर श्रेणी के अपराधों में 17 ऐसे विधायक कांग्रेस पार्टी के हैं जबकि गंभीर प्रवृत्ति के अपराधिक रिकॉर्ड वाले 8 विधायक बीजेपी  जेडीएस के 5 विधायक हैं यह तो हुई बाहुबल की बात 

अब जानिए धनबल की बात 207 में से 193 विधायक करोड़पति हैं सबसे ज्यादा 109 करोड़पति विधायक सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी में हैं मुख्य विपक्षी पार्टी बीजेपी में 36  जेडीएस में 33 विधायक करोड़पति हैं अन्य पार्टियों निर्दलीयों में भी करोड़पति उम्मीदवारों की संख्या कम नहीं है.108 विधायकों की संपत्ति 5 करोड़ से ज्यादा है कुल 52 की संपत्ति 2 से 5 करोड़ के बीच 45 की संपत्ति 50 लाख से 2 करोड़ के बीच है कर्नाटक विधानसभा में गरीब विधायक तो कोई नहीं है , लेकिन कांग्रेस पार्टी के एचपी राजेश 7 लाख की संपत्ति के साथ सबसे कम संपत्ति वाले विधायक हैं कांग्रेस पार्टी विधायक प्रियाकृष्णा 910 करोड़ की संपत्ति के साथ शीर्ष पर हैं