Loading...
Home >> Tech >> कार में फोन चार्ज करने के है इतने नुक्सान

कार में फोन चार्ज करने के है इतने नुक्सान

Related imageअगर आपकी भी आदत कार में मोबाइल चार्ज करने की है तो इसे आज ही त्याग दें. खासकर, अगर आपके पास आईफोन है  उसे आप लॉन्ग ड्राइव के दौरान कार में चार्ज करते हैं तो ऐसा करना बंद कर दीजिए. आप में से कई लोग अपनी कार में चार्जिंग के लिए USB पोर्ट लगाकर रखते है, लेकिन आप शायद ही जानते हैं कार में फोन चार्ज करने से फोन के साथ-साथ कार की बैटरी भी कितनी जल्दी बेकार होती है.

अगर आप गौर किया हो तो कार में लगे यूएसबी पोर्ट से चार्ज होने में फोन की बैटरी ज्यादा वक्त लेती है. इसका कारण यह है कि आपके फोन की बैटरी को बहुत कम क्षमतामिलती है. अगर आपने हाल ही में अपने आईफोन में आईओएस 11 अपडेट किया  बढ़िया बैटरी जीवन चाहते हैं तो आपको कार में फोन चार्ज करने से बचना चाहिए.

ऐसे में फोन की बैटरी बहुत तेजी से बेकार होती है, साथ ही कार की बैटरी पर भी इसका प्रभाव पड़ता है. ऐसे में आपके लिए बेहतर यही होगा कि आप एक बढ़िया पावरबैंक खरीदकर अपनी कार में रखें. बता दें कि कार में फोन को चार्ज करने से उसकी बैटरी जीवन 50 फीसदी तक कम हो जाती है.

यह भी पढ़ें:   10000 रुपये से भी कम कीमत मे मिल रहा है 13 MP कैमरा से लैस ये स्मार्टफोन्स

अगर आपकी भी आदत कार में मोबाइल चार्ज करने की है तो इसे आज ही त्याग दें. खासकर, अगर आपके पास आईफोन है  उसे आप लॉन्ग ड्राइव के दौरान कार में चार्ज करते हैं तो ऐसा करना बंद कर दीजिए. आप में से कई लोग अपनी कार में चार्जिंग के लिए USB पोर्ट लगाकर रखते है, लेकिन आप शायद ही जानते हैं कार में फोन चार्ज करने से फोन के साथ-साथ कार की बैटरी भी कितनी जल्दी बेकार होती है.

Loading...
loading...

अगर आप गौर किया हो तो कार में लगे यूएसबी पोर्ट से चार्ज होने में फोन की बैटरी ज्यादा वक्त लेती है. इसका कारण यह है कि आपके फोन की बैटरी को बहुत कम क्षमतामिलती है. अगर आपने हाल ही में अपने आईफोन में आईओएस 11 अपडेट किया  बढ़िया बैटरी जीवन चाहते हैं तो आपको कार में फोन चार्ज करने से बचना चाहिए.

ऐसे में फोन की बैटरी बहुत तेजी से बेकार होती है, साथ ही कार की बैटरी पर भी इसका प्रभाव पड़ता है. ऐसे में आपके लिए बेहतर यही होगा कि आप एक बढ़िया पावरबैंक खरीदकर अपनी कार में रखें. बता दें कि कार में फोन को चार्ज करने से उसकी बैटरी जीवन 50 फीसदी तक कम हो जाती है.