Loading...
Home >> State >> ताज के करीब ड्रोन उड़ाने वालों को हो सकती है जेल

ताज के करीब ड्रोन उड़ाने वालों को हो सकती है जेल

using drones around taj can now land one behind barsताजमहल के पास ड्रोन उड़ाने वालों पर पुलिस नकेल कसने की तैयारी कर रही है. पुलिस ने उन लोगों पर आपराधिक मामला दर्ज करने का निर्णय लिया है जो प्यार की इमारत के करीब ड्रोन उड़ाते हैं. यह निर्णय रविवार को लिया गया क्योंकि लगातार चेतावनी दिए जाने का कोई प्रभाव नहीं पड़ रहा है. अधिकारियों के अनुसार- 2017 के दौरान विश्व की ऐतिहासिक इमारत के पास करीब 20 बार ड्रोन देखे गए थे. मगर आपराधिक कार्यवाही करने का नियम होने के बावजूद भी पुलिस ने अब तक किसी के विरूद्ध मामला दर्ज नहीं किया है.

शहर के पुलिस अधीक्षक कुंवर अनुपम सिंह ने बोला कि यदि कोई शख्स ताजमहल के आस-पास ड्रोन उड़ाते हुए पकड़ा जाता है तो उसके विरूद्ध इंडियन सजा संहिता की धारा 287 (मशीन के विषय में लापरवाह व्यवहार), 336 (अपने ज़िंदगी को या दूसरों की पर्सनल सुरक्षा को खतरे में डालना), 337 (अपने ज़िंदगी को या दूसरों की पर्सनल सुरक्षा को खतरे में डालने से चोट लगना)  338 (अपने ज़िंदगी को या दूसरों की पर्सनल सुरक्षा को खतरे में डालने के कारण गंभीर चोट लगना) के तहत केस दर्ज किया जाएगा.

loading...

अनुपम सिंह का कहना है कि ताज के पास ड्रोन का प्रयोग करना सुरक्षा की दृष्टि से निषेध है. वह पहले लोगों में नियम को लेकर जागरुकता पैदा करने के लिए अभियान चलाएंगे. उन्होंने कहा- हम होटल मालिकों औऱ उनकी एसोसिएशन से संपर्क कर रहे हैं ताकि उन्हें नियम के बारे में बताया जा सके. उन्हें सलाह दी जाएगी की वह अपने मेहमानों को इस निषेध के बारे में जानकारी दें. आगरा के सीआईएसएफ कमांडेंट बृज भूषण ने इस मामले पर बोला कि इस तरह की मशीनों को उड़ाने की घटनाएं पुलिस द्वारा कठोर कदम उठाए जाने के बाद ही रुक पाएंगी. इससे दूसरे लोग भी ताज के आसपास ड्रोन उड़ाने से बचेंगे.