Home >> National >> भारत-इजरायल: खतरनाक स्पाइक मिसाइल के लिए $500 मिलियन वाली डील रद्द

भारत-इजरायल: खतरनाक स्पाइक मिसाइल के लिए $500 मिलियन वाली डील रद्द

India scraps $500 million Spike missile deal with Israel now DRDO will make it नई दिल्लीः छह दिनों की हिंदुस्तान यात्रा पर आज दिल्ली आ रहे इजरायली पीएम बेंजामिन नेतन्याहू कई मसौदों पर हस्ताक्षर करेंगे नेतन्याहू का हिंदुस्तान दौरा उस वक्त हो रहा है जब तक कुछ दिनों पहले ही इजरायल की तरफ से 50 करोड़ डॉलर का एक सौदा रद्द कर दिया है इस मसौदे के तहत स्पाइक टैंक-रोधी मिसाइलों का निर्माण किया जाना था उल्लेखनीय है कि स्पाइक का प्रयोग दुनियाभर के 26 राष्ट्र कर रहे हैं हिंदुस्तान ने एक लंबी प्रक्रिया के बाद सभी रक्षा खरीद नियमों का पालन करते हुए इसका चयन किया था

इस्राइली टैंक रोधी मिसाइलों पर करार संभव
रविवार से प्रारम्भ हो रही नेतन्याहू की हिंदुस्तान यात्रा के दौरान दोनों राष्ट्रों के बीच इस्राइली टैंक रोधी मिसाइलों के लिए करोड़ों डॉलर के एक करार पर हस्ताक्षर होने की आसार जताई जा रही है कयास लगाए जा रहे हैं कि रक्षा समझौते के अतिरिक्त दोनों राष्ट्रों के बीच कारोबार  कृषि एरिया से जुड़े करारों पर भी हस्ताक्षर हो सकते हैं इजरायल के ‘स्पाइक’ मिसाइलों के लिए संभावित समझौते की सारी बताए बगैर राजदूत डेनियल कार्मन ने बोला कि ‘स्पाइक’ परियोजना ‘‘मेक इन इंडिया में इस्राइल के जुड़ाव’’ का उदाहरण है, क्योंकि एक इजरायली कंपनी  इंडियन कंपनी के बीच गठबंधन के जरिए इसे लागू कराया जा सकता है

नई दिल्ली के नजरिए का जिक्र
लोकल मीडिया को संबोधित करते हुए इजरायल के राजदूत डेनियल कार्मन ने बोला कि यरूशलम को राष्ट्र की राजधानी के तौर पर मान्यता देने के अमेरिकी निर्णय पर संयुक्त देशमहासभा (यूएनजीए) में हिंदुस्तान के रुख को ज्यादा तूल नहीं देते हुए बोला कि नयी दिल्ली का नजरिया हिंदुस्तान एवं इस्राइल के संबंध “प्रभावित नहीं कर सकता” बताते चलें कि पिछले महीने हिंदुस्तान सहित 128 राष्ट्रों ने यूएनजीए में यरूशलम को इजरायल की राजधानी बनाने के पक्ष में वोट डाला था 128 राष्ट्र यरूशलम को इजरायल की राजधानी बनाने के पक्ष में थे, लेकिन अमेरिका के राष्ट्रपित डोनाल्ड ट्रंप ने इस निर्णय का विरोध किया था

loading...

40 लक्ष्यभेदी बमों, 131 बराक मिसाइलों की खरीद को मंजूरी
इससे पहले केंद्र गवर्नमेंट ने बीते 2 जनवरी को इंडियन वायु सेना के लिये 240 सटीक लक्ष्यभेदी बमों  नौसेना के लिये 131 बराक मिसाइलों की खरीद को मंजूरी दी इस खरीद में कुल 1,714 करोड़ की लागत आयेगी रक्षा मंत्रालय ने बोला कि रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने दो खरीद प्रस्तावों को मंजूरी दी है सटीक निर्देशित गोलाबारूद की श्रेणी में आने वाले यह बम रूस के मेसर्स जेएससी रोसोनबोरोन एक्सपोर्ट्स से 1,254 करोड़ की लागत से खरीदे जा रहे हैं