Home >> Polotics >> जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक फोन कॉल से बची थी 7 हजार लोगों की जान

जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक फोन कॉल से बची थी 7 हजार लोगों की जान

जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक फोन कॉल से बची थी 7 हजार लोगों की जानसिंगापुर: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने रविवार (7 जनवरी) को बोला कि साल 2015 में सऊदी के शाह को पीएम नरेंद्र मोदी का एक सीधा फोनकॉल निर्णायक साबित हुआ था तथा युद्ध प्रभावित यमन में फंसे हिंदुस्तानियों एवं विदेशियों को वहां से निकालने में मदद मिली थी साल 2015 में सऊदी अरब  उसके सहयोगियों के सैन्य दखल के दौरान यमन से 4000 से अधिक इंडियन नागरिकों एवं विदेशियों को निकालने के लिए इंडियन सशस्त्र बलों ने ‘ऑपरेशन राहत’ शुरु किया था अदन बंदरगाह से एक अप्रैल, 2015 को समुद्र से इन लोगों को निकालने का कार्य चला था जो 11 दिनों तक चला था यहां आसियान-भारत प्रवासी इंडियन दिवस पर प्रवासी हिंदुस्तानियों को संबोधित करते हुए स्वराज ने बोला कि यमनी स्थलों पर सऊदी अरब की तरफ से लगातार बमबारी से हिंदुस्तानियों को वहां से निकालना करीब-करीब असंभव हो गया था उन्होंने विस्तार से बताया कि ऑपरेशन राहत कैसे पास रहा

My speech in Singapore on 7th January 2018.https://t.co/gPtpZzuARm

— Sushma Swaraj (@SushmaSwaraj) January 7, 2018

उन्होंने बोला कि वह मोदी के पास गयीं  उन्हें सुझाव दिया कि सऊदी के शाह के साथ उनका बेहतर संबंध कार्य आ सकता है तब मोदी ने रियाद में शाह को सीधे कॉल किया हिंदुस्तानियों को सुरक्षित निकालने में योगदान मांगा तथा एक सप्ताह के लिए बमबमारी रोकने का अनुरोध किया इस पर सऊदी के शाह ने बोला कि हिंदुस्तान का अनुरोध इतना जरूरी है कि उसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है लेकिन बमबारी पर पूर्ण विराम से असमर्थता जतायी

loading...

सुषमा के अनुसार मोदी के साथ दोस्ती के चलते सऊदी शाह एक सप्ताह तक प्रातः काल नौ बजे से 11 बजे तक बमबारी रोकने पर राजी हो गये इस मौके का लाभ उठाते हुए उन्होंने यमन प्रशासन से अदन बंदरगाह  सना हवाई अड्डा खोलने का अनुरोध किया ताकि नागरिकों को एक सप्ताह तक प्रतिदिन दो घंटे तक मुस्तैदी से जिबूती पहुंचाया जा सके

विदेश मंत्री ने सिंगापुर के उपप्रधानमंत्री टियो ची हीन की उपस्थिति में कहा, ‘‘यमनियों ने मुझसे बोला कि वे हिंदुस्तानियों के लिए कुछ भी करेंगे ’’ उन्होंने बोला कि इस समन्वय से ऑपरेशन राहत के दौरान न केवल 4800 हिंदुस्तानियों बल्कि अन्य राष्ट्रों के 1972 लोगों को निकालना संभव हुआ  इस अभियान की अगुवाई विदेश राज्यमंत्री वी के सिंह ने की

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने रविवार (7 जनवरी) को बोला कि दुनियाभर में हिंदुस्तान की प्रतिष्ठा  वर्चस्व में इजाफा हुआ है, जिसमें पीएम नरेंद्र मोदी का अहम सहयोग है सुषमा स्वराज ने सिंगापुर में आयोजित आसियान-भारत प्रवासी इंडियन दिवस में कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के व्यक्तित्व की वजह से संसार में हिंदुस्तान का महत्व  प्रभुत्व कायम हो रहा हैजिस किसी राष्ट्र में भी वे गए, उन्होंने दोनों राष्ट्रों के संबंधों के साथ-साथ पर्सनल तौर पर भी बेहतर संबंध कायम किए ‘ दुनियाभर में फैले इंडियन समुदाय की तारीफ करते हुए सुषमा ने कहा, ‘मैं जहां कहीं भी गई मुझसे बोला गया कि अप्रवासी इंडियन  इंडियन अच्छे पड़ोसी होते हैं, इंडियन लोग मेहनती होते हैं, इंडियन नागरिक कानून का पालन करने वाले होते हैं ये सभी बातें मुझे गौरवान्वित करती हैं ‘